Wednesday, May 13Welcome to hindipatrika.in

कोरोना

लॉकडाउन के बीच दो जानी दुश्मन बनें दोस्त

कोरोना
कोरोना महामारी जिसके चपेट मे आज पूरी दुनियाँ है, लाखों लोग मारे जा चुके है और लाखों लोग इसके चपेट मे है ऐसे में डॉक्टर और पुलिस अपने जान पर खेल कर लोगों की सहायत मे लगे है लेकिन समाज के कुछ तबका ऐसा भी है जो डॉक्टर और पुलिस के उपेर पत्थर मरने से भी बाज नहीं आ रहें, जिनके उपेर फूल की बारिश करना चाहिए उनके उपेर पत्थर की बारिश करते है | इस लॉकडाउन में जानवरों ने एक बहुत बडा मिसाल कायम किया है , दो जानी दुश्मन दोस्ती करते नजर या रहें है | ये पोस्ट @Welcome to Nature ट्विटर अकाउंट से पोस्ट किया गया है जीसे आप देख सकते है | जिसमें दो जानवर इंसान बनाते नजर या रहें है, क्योंकी ये दोनों जानवर इंसानीय को कायम कैसे रखा जाये ये बताने की कोसिस कर् रहें है आपस मे हाथ मिला कर | Gentleman pic.twitter.com/TIw4Nfr85h— Welcome To Nature (@welcomet0nature) May 6, 2020
कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने का इजराइल ने किया दावा

कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने का इजराइल ने किया दावा

कोरोना, मुख्य
कोरोना एक खतरनाक महामारी:- कोरोना एक खतरनाक महामारी जिसके चपेट मे आज पूरी दुनियाँ हैं, आज पूरा मानवता खतरे में या चुका है, जिसके चलते WHO – डब्ल्यूएचओ (विश्व स्वास्थ्य संगठन) ने Navel Covid 19, कोरोना वायरस को महामारी घोषित किया है| क्योंकी इसके फैलाने की रफ्तार इटनी तेज है की ये लोगों के संपर्क में आने और छूने से भी फिलाती है | इस बीमारी ने पूरी दुनियाँ मे कहर मचा रखा है | इसके बढ़ते स्वरूप ने लोगों को डरा कर रखा है, इस कोरोना महामारी से दुनियाँ में लाखों लोगों की जान जा चुकी है और कई लाख लोग अभी भी इसके चपेट में है | कोरोना वायरस के इस भयानक डर के बीच राहत देने वाली खबर आप ने बिल्कुल सही पढ़ा,कोरोना वायरस इस डर के बीच एक अच्छी राहत देने खबर भी या रही है, एक देश ने इस जानलेवा बीमारी का वैक्सीन बाबने का दावा दिया है, जी हाँ आप ने बिल्कुल सही पढ़ा ये दावा इजराइल ने किया है

लॉकडाउन में फंसे मजदूरों-छात्रों के लिए मोदी सरकार बनी संकट मोचन, स्पेशल ट्रेन चलाने की दी इजाजत

कोरोना
मोदी सरकार के निर्देशा अनुसार गृह मंत्रालय ने लॉकडाउन में फंसे छात्रों मजदूरों, और तीर्थयात्रियों को सही सलामत उनके घर सुरक्षित पहुचने के लिए स्पेशल ट्रेनों को चलाने की आज अनुमति दी है | मोदी सरकार के लॉकडाउन के वादों के अनुसार अब समय पूरा हुआ इसके बाद लोगों को उनके घर पहुचाने के लिए स्पेशल ट्रेन की मंजूरी दी और जिसमे पहला ट्रेन शुक्रवार की सुबह तेलंगाना के लिंगमपल्ली से लेकर झारखंड के हटिया स्टेशन लिए रवाना हुई है | वहाँ से फिर लोगों के घर तक पहुँचाया जाएगा | मोदी सरकार के हरी झंडी मिलने के बाद देश के सभी राज्यों को निर्देश दिए है की राज्य के फसे मजदूरों, छात्रों और अन्य को लाने के लिए दिए गये निर्देशों के अनुसार संपर्क करें, ताकि उन राज्यों के लिए स्पेशल ट्रेन चलाई जा सकें | जैसा की सबको पता है की देश मे लगातार कोरोना वायरस के मरीजों के आंकड़ों बढ़ते जा रहें है इस
संजय सहनी : पश्चिम बिहार का एक उभरता हुआ युवा चेहरा | पश्चिम बिहार का बेटा

संजय सहनी : पश्चिम बिहार का एक उभरता हुआ युवा चेहरा | पश्चिम बिहार का बेटा

कोरोना, देश
https://www.youtube.com/watch?v=VYNA-jzj20Y संजय सहनी पश्चिम बिहार का एक जुझारू युवा नेता और गरीबों का दोस्त जो कोरोना रूपी संकट में कुछ लोगों के लिए संकट मोचन बन कर सामने आयें | संजय सहनी से बहुत लोग परिचित है , कैमूर भभुआ के रहने वालें एक ऐसा चेहरा जो युवा दिलों का धड़कन बन गये है, बिना किसी के मदद के लोगों मे एक बडा पहचान बनाने वाले एक युवा धड़कन | बिहार के कुछ मजदूर कोरोना संकट में दूर दरार क्षेत्र मे फसे हूएं है वे सभी लोग अपने सांसद , बिधायक और लोकल नेता से संपर्क कीये ताकि उनके दो समय के भोजन के लिए मदद करें लेकिन किसी ने उन मजदूरों की एक नहीं सुनी| उसके बाद सभी मजदूर मिल कर संजय सहनी जी से निवेदन कीये जीसके पश्चात उन्होंने सभी गरीबों को 1000 रूपीया तुरंत ततकाल मदद का अस्वासन दिए | इस कोरोना रूपी महामारी ओ हराने के लिए उन्होंने सभी से अनुरोध किया की आप ज
सिविल डिफेंस टीम के लीडर दीपक विश्वकर्मा के निस्वार्थ सेवा

सिविल डिफेंस टीम के लीडर दीपक विश्वकर्मा के निस्वार्थ सेवा

कोरोना
करोना जिसने पूरे दुनिया को अपने गिरफ़्त में लेती जा रही है, लोग अपने घरों में रहने को मजबूर होते जा रहें है , ऐसे मे इंदौर के एरोड्रम थाने पर कार्यरत सिविल डिफेंस टीम के लीडर दीपक विश्वकर्मा लगातार कई दिनों से अपने घर नहीं गए हैं, इस महामारी के चलते वह माता-पिता से दूर निस्वार्थ सेवा दे रहे हैं, जो सराहनीय कदम है | https://youtu.be/xoQrvk4B5DI इंदौर में बिना किसी स्वार्थ और बिना किसी सैलरी के खुद के पैसों से खरीदते हैं सैनिटाइजर और हाथों के गलब्स सुबह और शाम दोनों समय देते हैं, ड्यूटी सभी सदस्य सिविल डिफेंस को |
कोरोना: 8 लक्षण यदि आप के शरीर में दिख तो समझ लें की आपको की डॉक्टर्स मदद की जरूरत है, घबराएं नहीं

कोरोना: 8 लक्षण यदि आप के शरीर में दिख तो समझ लें की आपको की डॉक्टर्स मदद की जरूरत है, घबराएं नहीं

कोरोना, मुख्य
कोरोना, एक ऐसा नाम जिससे पूरी दुनिया अच्छी तरह से परिचित है, कोरोना वायरस जिसके चपेट में पूरी दुनिया आगे बढ़ती जा रही है, जिसका अभी तक कोई ठोस इलाज नहीं बन पाया है, वैज्ञानिकों का कहना है यदि इस बीमारी से बचना है तो पूरे मानव जाती को Staying at home को फॉलो करना पड़ेगा, इस बीमारी के लक्षण आम सर्दी-जुकाम के तरह है जिसे पहचान पाना काफी मुस्किल होता है, बिना लैब टेस्ट के इसके लक्षण जान पान मुस्किल है, कई लोगों में तो इस बीमारी के लक्षण काफी देर से नजर आता है, आइए हम जानते है की शरीर में इस बीमारी के कौन- कौन से प्रमुख लक्षण है, यदि आप को ये लक्षण दिखे तो डॉक्टर्स की मदद जरूर लें, क्योंकी आप जितना जल्दी इस रोग को समझ पाएंगे आप उतना ही सेफ है | 1. सूखी खांसी: - WHO और दुनिया की सभी शोधकर्ताओं द्वारा जारी एक रिपोर्ट में साफ-साफ बताया गया है कि यदि आप को सूखी खांसी आनी शुरू हो होती है और अगर
कोरोना को ले कर ब्रिटेन के वैज्ञानिकों का दावा – सितंबर तक आ जाएगी कोरोना की वैक्सीन

कोरोना को ले कर ब्रिटेन के वैज्ञानिकों का दावा – सितंबर तक आ जाएगी कोरोना की वैक्सीन

कोरोना, मुख्य
दुनिया में कोरोना वायरस( Coronavirus – Covid -19) के वैक्सीन बनाने के बहुत सारे दावा आप ने सुना होगा एक ऐसे ही दावा ब्रिटेन के Oxford  University के प्रोफेसर सारा गिलबर्ट ने किया है ये Oxford  University के  वैक्सीनोलॉजी डिपार्टमेंट की प्रोफेसर है जिन्होंने कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने का दावा किया है, इन्होंने सितंबर तक वैक्सीन आने की दावा किया है| कोरोना वायरस एक ऐसा नाम जिससे आज दुनिया का हर व्यक्ति परिचित है जो एक महामारी बन चुकी है, इस बीमारी ने दुनिया के लगभग 22 लाख से भी ज्यादा लोगों को संक्रमित कर दिया है, जबकी 1.5 लाख लोग से अधिक लोगों को मौत की नींद सुला चुका है, इस बीमारी ने सबको हैरत में डाल रखा है | कोरोना वायरस के इलाज खोजने के लिए पूरी दुनिया में शोध हो रही है | इस बीमारी से सबसे अधिक प्रभावित देश, अमेरीका (United States), Spain, Italy, Germany, France, U