Monday, September 20Welcome to hindipatrika.in
Shadow

दुनिया

World Top 5 Best Cities-: दुनिया के वो 5 बेहतरीन शहर जहां हर इंसान जीवन में एक बार जरूर जाना चाहेगा

World Top 5 Best Cities-: दुनिया के वो 5 बेहतरीन शहर जहां हर इंसान जीवन में एक बार जरूर जाना चाहेगा

कोरोना, दुनिया, पर्यटन, मुख्य, लाइफस्टाइल (जीवन शैली)
दुनिया के इस नए बदलते हुए टेक्नॉलजी के दौर में हर इंसान दुनियाँ के हर कोने से जुड़ा हुआ हूँ, जहां दुनिया एक मोबाईल में सिमट कर रह गई है, लोग घर बैठे है पूरी दुनीया में हो रहें बदलाव को देख रहें है, इस कोरोना महामारी में जब लोग घरों में बैठे थे तो टीबी और इंटरनेट के माध्यम से पूरी दुनिया मे हो रहें बदलाव को लोगों ने साफ साफ देखा । इस कोरोना महामारी में दुनिया के सबसे बेहतरीन शहरों ने खुद को सुरक्षित रखने में कई बड़े बड़े कदम उठाए और इस कोरोना महामारी से लड़ कर दिखाया की वे कैसे दुनिया के सबसे बेस्ट शहर है। आप इन शहर को सपनों की नगरी भी कह सकते हैं। अब आप सोच रहें होंगे की ऐसे कौन से शहर है जो दुनियाँ में बेहतरीन है। आईये हम जानते है , बेहतरीन शहर के बारे में, दुनिया के सबसे बेहतरीन शहरों की रैंकिंग में सैन फ्रांसिस्को - यूएस, मैनचेस्टर – यूके, एम्स्टर्डम- नीदरलैंड, टोक्यो –...
अल्लाउद्दीन खिलजी पद्मावती का प्रेमी नहीं, कायर सुल्तान था

अल्लाउद्दीन खिलजी पद्मावती का प्रेमी नहीं, कायर सुल्तान था

दुनिया, मुख्य
राजपूत सिर्फ एक जाति नहीं है,वह एक परंपरा है, जिसे भारतवर्ष में लोगों की रक्षा के लिए बनाया गया. दस सूर्यवंशीय , दस चंद्रवंशीय क्षत्रिय, बारह ऋषिवंशी एवं चार अग्निवंशीय,कुल मिलाकर 32 वंशों के प्रमाण से राजपूतों का अस्तित्व सिद्ध होता है. बाद में यह बासठ वंश तक पहुँच गया. राजा राम सूर्यवंशी थे, यह क्षत्रिय वंश के लिए गौरव की बात है. भारत में चाहे फिल्म हो या टीवी हर जगह राजपूतों को इस रूप में प्रस्तुत किया जाता है मानो सांमतवाद और क्रूरता को जन्म देने में केवल इन्हीं का हाथ रहा हो .राजपूत परिवारों को शोषण का गढ़ दिखाया जाता है. लोगों में राजपूतों की छवि क्रूर शासक के रूप में बना दी गई है. इसी से आगे बढ़ते हुए अब राजपूतों के निजी जीवन पर भी पटकथाएँ लिखी जा रही हैं. राम, कर्ण, अर्जुन , अभिमन्यु जैसे राजपूत योद्धाओं पर काफी कुछ लिखा- पढ़ा और पर्दे पर उतारा गया है, लेकिन ऐतिहासिक संदर्भों को तो...
रोहिंग्या मुसलमान: आखिर कौन है रोहिंग्या मुसलमान, क्या ये शरणार्थी है या अवैध प्रवासी ? क्या है चर्चा का बिषय?

रोहिंग्या मुसलमान: आखिर कौन है रोहिंग्या मुसलमान, क्या ये शरणार्थी है या अवैध प्रवासी ? क्या है चर्चा का बिषय?

दुनिया
रोहिंग्या मुस्लिम (Rohingya Muslim) प्रमुख रूप से बर्मा (म्यांमार) के अराकान (जिसे राखिन (Rakhine) के नाम से भी जाना जाता है) प्रांत में बसने वाले अल्पसंख्यक मुस्लिम लोग हैं ये सुन्नी इस्लाम (Sunni Islam) को मानते है, रोहिंग्या भाषा बोलते है प्रतिबन्ध होने की बजह से ये कम पढ़े लिखे है शिर्फ़ बुलियादी इस्लामी तालीम ही हाशिल कर पाते है  । जिनकी संख्या  बर्मा (म्यांमार) में 10 लाख के आश पाश है | ये म्यांमार में सदियों से रहते आये है | लेकिन इनको बर्मा के लोग और वहां की सरकार अभी भी अपनी नागरिक नहीं मानती | ये अब देश बिहीन हो गए, पहले भी इनके पाश अपना कुछ नहीं था | जिस देश को सन 1400 के आसपास ये लोग अपना मान कर बस गए थे आज वही देश इन्हें अपना मानने से इंकार कर रहा है | ये 1430 में रहाइन पर राज करने वाले बौद्ध राजा नारामीखला के दरबार में नौकर थे | राजा ने मुस्लिम सलाहकारों और दरबारियो...
चीनी मीडिया ने भारतीय एनएसए डोभाल को बताया डोकलाम में टकराव का ‘मुख्य साजिशकर्ता’

चीनी मीडिया ने भारतीय एनएसए डोभाल को बताया डोकलाम में टकराव का ‘मुख्य साजिशकर्ता’

दुनिया, मुख्य
डोकलाम विवाद का हल निकलने की उम्मीदों और अजीत डोभाल के चीन दौरे से ऐन पहले पड़ोसी मुल्क की मीडिया ने भारतीय राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार को निशाने पर लिया है। चीन सरकार के मुखपत्र माने जाने वाले अखबार ग्लोबल टाइम्स ने अपने संपादकीय लेख में डोभाल को डोकलाम में तनाव का \'मुख्य साजिशकर्ता\' करार दिया है। इस लेख में ब्रिक्स की मीटिंग में भारतीय और चीनी एनएसए की बैठक में सुलह का रास्ता निकलने की अटकलों को भी खारिज किया गया है। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); बता दें कि एक दिन पहले ही सोमवार को चीन ने संकेत दिए थे कि ब्रिक्स बैठक के अलावा डोभाल और चीनी समकक्ष अलग से मीटिंग कर सकते हैं। चीनी विदेश मंत्रालय में प्रवक्ता ने कहा था, 'जहां तक हमारी जानकारी है, पिछली बैठकों में मेजबान देश प्रतिनिधिमंडलों के प्रमुखों की द्विपक्षीय बातचीत के लिए इंतजाम करता रहा है, जिसमे...
डोकलाम: चीनी सेना की भारत को धमकी, पीछे हटो वरना बढ़ा देंगे सैनिकों की संख्या

डोकलाम: चीनी सेना की भारत को धमकी, पीछे हटो वरना बढ़ा देंगे सैनिकों की संख्या

दुनिया, देश
  डोकलाम पर जारी तनातनी को लेकर अब तक चीन अपने सरकारी मीडिया के जरिए युद्ध की धमकी देता आ रहा था, लेकिन अब सीधे चीन की सेना भारत को युद्ध की चेतावनी दे रही है। चीन की सेना की ओर से सोमवार को चेतावनी भरे लहजे में कहा गया कि पहाड़ को हिलाना को मुमकिन है, लेकिन चीन की सेना को नहीं, इसलिए भारत डोकलाम से अपने कदम पीछे खींच ले। सेना के प्रवक्ता ने कहा कि भारत पीछे नहीं हटा तो चीन डोकलाम में अपने सैनिकों की संख्या बढ़ा देगा। चीनी सेना के प्रवक्ता वू चिऐन ने भारत को धमकी देते हुए कहा, ' चीनी सेना का 90 साल का इतिहास हमारी क्षमता को साबित करता है। पहाड़ को हिलाना तो मुमकिन है, पर चीन की सेना को नहीं।' उन्होंने आगे कहा, 'भारत किसी भ्रम में न रहे। हम हर कीमत पर अपनी संप्रभुता की रक्षा करेंगे।' डोकलाम में पूरा विवाद सड़क निर्माण को लेकर शुरू हुआ था। इसका जिक्र करते हुए चिऐन ने कहा, जून के मध...
स्‍टीफन हॉकिंग की चेतावनी- Alien (एलियन) के सिग्‍नल को जवाब ना दें, दुनिया के लिए होगा खतरनाक

स्‍टीफन हॉकिंग की चेतावनी- Alien (एलियन) के सिग्‍नल को जवाब ना दें, दुनिया के लिए होगा खतरनाक

टेक्नोलॉजी, दुनिया, मुख्य
प्रसिद्ध ब्रिटिश भौतिक विज्ञानी ( Physicist ) Stephen Hawking (स्टीफन हॉकिंग) ने चेतावनी दी है कि दुनिया को एलियन सभ्यता से दूर रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि वे हमसे ताकतवर होेंगे और वे हमें बै‍क्‍टरीया से ज्‍यादा कुछ नहीं समझेंगे। उन्होंने आगाह करते हुए कहा कि हमें किसी भी एलियन सभ्यता खासकर वैसी सभ्यता जो तकनीकी रूप से इंसानों से अधिक उन्नत हो, उनसे बचना होगा। हॉकिंग ने एक नई ऑनलाइन फिल्म में कहा कि किसी भी अधिक उन्नत सभ्यता से हमारे संपर्क की स्थिति में कुछ वैसा ही हो सकता है जब मूल अमेरिकियों ने पहली बार क्रिस्टोफर कोलंबस को देखा और चीजें बहुत अच्छी नहीं रही। हॉकिंग ने कहा, ”एक दिन हो सकता है हमें ग्लिज सी 832 जैसे ग्रह से सिग्‍नल मिल जाए। लेकिन हमें जवाब देने से बचना चाहिए। वे ज्‍यादा ताकतवर होंगे और हमें बै‍क्‍टरीया से ज्‍यादा कुछ नहीं समझेंगे। आपको बता दें कि पहली बार नहीं है जब...
1965 की जंग की सच्चाई, पाकिस्तान आज भी मनाता है झूठा जश्न | भारत-पाकिस्तान 1965 युद्ध डॉक्यूमेंट्री ! शौर्य और बलिदान की वीरगाथा |

1965 की जंग की सच्चाई, पाकिस्तान आज भी मनाता है झूठा जश्न | भारत-पाकिस्तान 1965 युद्ध डॉक्यूमेंट्री ! शौर्य और बलिदान की वीरगाथा |

दुनिया, देश
सेना 1965 की भारत-पाक की जंग की 50वीं सालगिरह मना रही है । कश्मीर के मोर्चे पर पाकिस्तानी हमले की धार कमज़ोर करने के लिए भारत ने पंजाब की अंतरराष्ट्रीय सीमा पर जवाबी हमला किया, लेकिन असल उत्तर में टैंक युद्ध ने दुश्मन के हौसले पस्त कर दिए।
सुकमा हमले: सीआरपीएफ जवान दोपहर का भोजन कर रहे थे जब माओवादियों ने उन पर हमला किया

सुकमा हमले: सीआरपीएफ जवान दोपहर का भोजन कर रहे थे जब माओवादियों ने उन पर हमला किया

दुनिया, देश
सुकमा में CRPF जवानों पर नक्सलियों ने सोमवार को भारी हथियारों से लैस होकर हमला किया था।. शहीद 25 CRPF जवान.    
बांग्लादेश को 29000 Cr का कर्ज देगा भारत, दोनों के बीच 22 करार हुए

बांग्लादेश को 29000 Cr का कर्ज देगा भारत, दोनों के बीच 22 करार हुए

दुनिया, देश, मुख्य
बांग्लादेश और भारत के बीच शनिवार को हैदराबाद हाउस में बाइलेटरल बातचीत हुई और साथ ही बांग्लादेश और भारत के बीच डिफेंस, सिक्युरिटी और सिविल न्यूक्लियर सेक्टर से जुड़े 22 समझौते भी हुए। मोदी ने कहा, "बांग्लादेश के साथ दोस्ती का सुनहरा दौर शुरू हुआ है। उसके विकास के लिए भारत उसके साथ खड़ा है।" इस मौके पर मोदी ने बांग्लादेश में प्रोजेक्ट्स पर अमल के लिए करीब 29 हजार करोड़ रुपए (4.5 बिलियन डॉलर) के कर्ज का एलान भी किया। - मोदी ने कहा, "आतंकवाद के खिलाफ दोनों देश मिलकर लड़ेंगे। - तीस्ता जल विवाद दोनों देशों के लिए अहम है, उम्मीद है कि हम जल्द ही इसका हल निकाल लेंगे।" - मुक्ति संग्राम में जान गंवाने वाले भारतीय सैनिकों को सम्मानित करने के बांग्लादेश के कदम ने हर भारतीय की आत्मा को छुआ है, 1971 की जंग के योद्धाओं का सम्मान भारत का सम्मान है।" - मोदी ने कहा की हम अपने कमर्शियल रिलेशनशिप...