Monday, September 20Welcome to hindipatrika.in
Shadow

लाइफस्टाइल (जीवन शैली)

World Top 5 Best Cities-: दुनिया के वो 5 बेहतरीन शहर जहां हर इंसान जीवन में एक बार जरूर जाना चाहेगा

World Top 5 Best Cities-: दुनिया के वो 5 बेहतरीन शहर जहां हर इंसान जीवन में एक बार जरूर जाना चाहेगा

कोरोना, दुनिया, पर्यटन, मुख्य, लाइफस्टाइल (जीवन शैली)
दुनिया के इस नए बदलते हुए टेक्नॉलजी के दौर में हर इंसान दुनियाँ के हर कोने से जुड़ा हुआ हूँ, जहां दुनिया एक मोबाईल में सिमट कर रह गई है, लोग घर बैठे है पूरी दुनीया में हो रहें बदलाव को देख रहें है, इस कोरोना महामारी में जब लोग घरों में बैठे थे तो टीबी और इंटरनेट के माध्यम से पूरी दुनिया मे हो रहें बदलाव को लोगों ने साफ साफ देखा । इस कोरोना महामारी में दुनिया के सबसे बेहतरीन शहरों ने खुद को सुरक्षित रखने में कई बड़े बड़े कदम उठाए और इस कोरोना महामारी से लड़ कर दिखाया की वे कैसे दुनिया के सबसे बेस्ट शहर है। आप इन शहर को सपनों की नगरी भी कह सकते हैं। अब आप सोच रहें होंगे की ऐसे कौन से शहर है जो दुनियाँ में बेहतरीन है। आईये हम जानते है , बेहतरीन शहर के बारे में, दुनिया के सबसे बेहतरीन शहरों की रैंकिंग में सैन फ्रांसिस्को - यूएस, मैनचेस्टर – यूके, एम्स्टर्डम- नीदरलैंड, टोक्यो –...
रोहतासगढ़ किला का इतिहास – Rohtas Garh Fort History – जाने रोचक तथ्य

रोहतासगढ़ किला का इतिहास – Rohtas Garh Fort History – जाने रोचक तथ्य

WIKI, पर्यटन, मुख्य, सामान्य ज्ञान ( GK )
रोहतासगढ़ किला भारत केपुराने किलों में से एक है यह किला बिहार के रोहतास जिला मे स्थित है, इस किला के बारे में काफी कम चर्चा होती है, यदि आप रोहतास के लोगों से ही पूछे तो काफी कम लोगों को पता है जब की इस किले का इतिहास काफी सुनहरा रहा है, इससे बहुत सारे इतिहास जुड़े है जो काफी बड़ा किला है. बिहार के रोहतास जिले के सोन नदी बहाव की ओर काफी ऊंचा पहाण पर स्थित है जो देहरी आनसोन से 43 किलोमीटर और सासाराम से करीब 55 किलोमीटर दूरी पर है समुद्र तल से इसकी ऊंचाई 1500 मीटर है, रोहतासगढ़ किला का निर्माण काल - Rohtas Garh Fort इस किले के निर्माण काल के बारे में बहुत ही कम लोगों को पता है रोहतासगढ़ किला का निर्माण त्रेता युग में हुआ था जिसे सूर्यवंशी राजा त्रिशंकु के पौत्र व राजा हरिश्चंद्र के पुत्र रोहिताश्व ने कराया था. रोहिताश्व की जन्म भूमि अयोध्या है. Rohtas Garh Fort को धोखे से किया गया कब्जा यह ...
हमेशा जवान दिखने के लिए क्या करें ? – 50 कि उम्र में  30 जैसा कैसे दिखे?

हमेशा जवान दिखने के लिए क्या करें ? – 50 कि उम्र में 30 जैसा कैसे दिखे?

लाइफस्टाइल (जीवन शैली), स्वास्थ्य
जब हमारे सामने एक सवाल आता है की हमेशा जवान दिखने के लिए क्या करें ? यह सवाल अपने आप में काफी बड़ा है ।  लेकिन कुछ ऐसे बाते जिसे आप अपने जीवन में अपना कर 40  के उम्र  में भी जवान दिख सकते है । आप ने अक्सर देखा होगा की 35 या 40  की उम्र के बाद शरीर में काफी बदलाव होता है । ज्यादा तर लोगो में आप ने देखा होगा की चेहरे की चमक कम होना, थकान, त्वचा की समस्याएं, बदन-में-दर्द, त्‍वचा की झुर्रियां, कमजोर शरीर, आंख के नीचे काले निशान कई तरह के समस्याओ का सामना करते हुए । इस नयी लाइफ स्टाइल दुनिया में हर कोई जावा दिखाना चाहता है ताकि उनका शरीर हमेसा चमकदार और युवा जैसा बना रहे । लेकिन एक सवाल उठता है की क्या 35 या 40 के बाद भी ऐसा संभव है? ये सबको पता है की परिवर्तन/बदलाव ही संसार का नियम है समय और उम्र के अनुसार शरीर  बढ़ाना एक प्राकृतिक हिस्‍सा है। इसे कोई रोक नहीं सकता । आ...
मधुमेह (diabetes ) क्या है? डायबिटीज कैसे होता है? क्या लक्षण हैं? डायबिटीज से कैसे बचें? How To Control Diabetes?

मधुमेह (diabetes ) क्या है? डायबिटीज कैसे होता है? क्या लक्षण हैं? डायबिटीज से कैसे बचें? How To Control Diabetes?

मुख्य, लाइफस्टाइल (जीवन शैली), स्वास्थ्य
आज कल के भाग दौड़ भरी जिंदगी में मोटापा (obesity) और डायबिटीज diabetes (मधुमेह ) दो सबसे बड़ी स्वास्थ्य समस्याएं हैं आम होती जा रही है । भाग दौड़ भरी  जीवनशैली, गलत खानपान इसके प्रमुख कारण हैं लेकिन जीवनशैली और खानपान की आदतों में सुधार करके हम इन समस्याओं से बच सकते हैं। मधुमेह (डायबिटीज ) में ब्लड शुगर (Blood sugar ) बहुत बढ़ जाता है जिससे शरीर की इंसुलिन उत्पादन क्षमता (Insulin production capacity ) प्रभावित होने लगती है। जिसके कारण कई ऐसा समस्याएं आने लगी है जिसके चलते शरीर सक्रिय रूप से इंसुलिन का इस्तेमाल ही नहीं कर पाता हैं । https://www.youtube.com/watch?v=RecBt-v3sQc मधुमेह के लक्षण (Symptoms of diabetes):- - बहुत ज्यादा या बार बार प्यास लगना - आँखों की रौशनी कम होना (दृष्टी धुंधली होना) - लगातार भूख लगना - बार-बार पेशाब का आना - अकारण वजन कम होना - कोई भ...
यदि आप का हिमाचल घूमने का प्लान बना रहें है तो इन 10 बेहद खूबसूरत जगहों पर जरूर जाएं

यदि आप का हिमाचल घूमने का प्लान बना रहें है तो इन 10 बेहद खूबसूरत जगहों पर जरूर जाएं

पर्यटन
हिमाचल एक बहुत ही खुबसूरत जगह  है जहाँ पर आप अपने छुट्टी के दिन में घूम सकते है | मई में गर्मी की छुट्टियां शुरू होती है जब की सबसे अधिक गर्मी  मई और जून में होती है इस चिलचिलाती गर्मी से बचने के लिए आप हिमाचल  की खुबसूरत वादियों की सैर कर सकते है क्यों की इस चिलचिलाती गर्मी  में हिमाचल से बेहतर और क्या हो सकता है | यदी आप इस  चिलचिलाती गर्मी से कुछ राहत पाना चाहते हैं तो आप अपने परिवार के साथ कुछ खुशनुमा पल बिता सकते है | बहुत लोग यहाँ पहले भी जा चुके होंगे लेकिन आप चाहें तो  हिमाचल  की लिक से हटके और भी जगह है जो कम भीड़भाड़ कम और ज्यादा  सुकून भरा जगह भी है जिसका आप भरपूर आनंद ले सकते है | शोजा -> अगर मै आप से ये कहूँ की आपने कभी बादलों और पहाड़ो को एक साथ देखा है बेहद करीब से, यदि आप के पास जबाब नहीं है तो आप तो आप शोजा जरूर जाएँ, इसके साथ आप को यहाँ पर हरे भरे पेड़,  झ...
मर्सिडीज बेंज वाला गरीब आदमी:अजय अमिताभ सुमन

मर्सिडीज बेंज वाला गरीब आदमी:अजय अमिताभ सुमन

आलोचना, कहानी, मुख्य, रहन सहन, रिलेशनशिप, लघुकथा, व्यंग्य, व्ययंग, साहित्य, हिन्दी साहित्य
Photo Credit: Pixabay राजेश दिल्ली में एक वकील के पास ड्राईवर की नौकरी करता था. रोज सुबह समय से साहब के पास पहुंचकर उनकी  मर्सिडीज बेंज की सफाई करता और साहब जहाँ कहते ,उनको ले जाता. पिछले पाँच दिनों से बीमार था. ठीक होने के बात ड्यूटी ज्वाइन की. फिर साहब से पगार लेने का वक्त आया. साहब ने बताया कि ओवर टाइम मिलाकर उसके 9122 रूपये बनते है . राजेश ने पूछा , साहब मेरे इससे तो ज्यादा पैसे बनते हैं. साहब ने कहा तुम पिछले महीने पाँच दिन बीमार थे. तुम्हारे बदले किसी और को ले जाना पड़ा. उसके पैसे तो तुम्हारे हीं पगार से काटने चाहिए. राजेश के ऊपर पुरे परिवार की जिम्मेवारी थी. मरते क्या ना करता.उसने चुप चाप स्वीकार कर लिया. साहब ने उसे 9100 रूपये दिए. पूछा तुम्हारे पास 78 रूपये खुल्ले है क्या? राजेश ने कहा खुल्ले नहीं थे. मजबूरन उसे 9100 रूपये लेकर लौटने पड़े. Photo Credit: Pixabay उसका...
सुषमा स्वराज जीवनी – Biography of Sushma Swaraj

सुषमा स्वराज जीवनी – Biography of Sushma Swaraj

लाइफस्टाइल (जीवन शैली)
सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj -14 फ़रवरी, 1952 ) – 26 मई 2014 को केंद्रीय केबिनेट में भारत की विदेश मंत्री चुनी गयी हैं। भारत की प्रमुख राजनीतिक पार्टियों में से एक ( भाजपा - 'भारतीय जनता पार्टी') की शीर्ष महिला मंत्री में गिनी जाती हैं। वे कुछ समय के लिए दिल्ली की पहली महिला मुख्यतमंत्री भी रहीं । 1977 में उन्हें मात्र 25 वर्ष की उम्र में राज्य की कैबिनेट का मंत्री बनाया गया था और 27 वर्ष की उम्र में वे राज्य जनता पार्टी की प्रमुख बनी | सुषमा स्वराज ग्यारहवीं, बारहवीं और पंद्रहवीं लोक सभा की सदस्य चुनी गयी थीं। जन्म तथा शिक्षा :- सुषमा स्वराज का जन्म 14 फ़रवरी, 1952 को अंबाला छावनी, हरियाणा में हुवा था | अंबाला छावनी (Cantt) एक प्रमुख रेलवे जंकशन है। अंबाला जिला हरियाणा एंव पंजाब (भारत) राज्यों की सीमा पर स्थित है। उनके पिता श्री हरदेव शर्मा जो की आरएसएस के प्रमुख सदस्य थे। उनका विवा...
आत्म कथ्य-अजय अमिताभ सुमन (सर्वाधिकार सुरक्षित)

आत्म कथ्य-अजय अमिताभ सुमन (सर्वाधिकार सुरक्षित)

अन्य, धर्म-दर्शन, मुख्य, रहन सहन, साहित्य, हिन्दी साहित्य
  ना पूछो मैं क्या कहता हूँ , क्या करता हूँ क्या सुनता हूँ .  दुनिया को देखा जैसे , चलते वैसे ही मैं चलता हूँ . चुप नहीं रहने का करता दावा, और नहीं कुछ कह पाता हूँ. बहुत बड़ी उलझन है यारो, सचमुच मैं अब शर्मिन्दा हूँ सच नहीं कहना मज़बूरी, झूठ नहीं मैं सुन पाता हूँ . मन ही मन में जंग छिडी है , बिना आग के मैं जलता हूँ . सूरज का उगना है मुश्किल , फिर भी खुशफहमियों से सजता हूँ . कभी तो होगी सुबह सुहानी , शाम हूँ यारो मैं ढलता हूँ .                                                                                               अजय अमिताभ सुमन                                                                                           सर्वाधिकार सुरक्षित ...
मन की हलचल रोकने का एक सरल तरीका

मन की हलचल रोकने का एक सरल तरीका

ध्यान, मुख्य, लाइफस्टाइल (जीवन शैली), स्वास्थ्य
पतंजलि ने योग की बहुत ही सरल परिभाषा दी थी – योग चित्त वृत्ति निरोधः। इसका अर्थ है मन में आने वाले सभी बदलाव रुक जाने पर योग की स्थिति प्राप्त होती है। जानते हैं ऐसी स्थिति तक पहुँचने का सरल उपाय | अगर आप हर चीज को उसी तरह समझते और महसूस करते हैं, जैसी वो है, तो लोग आपको दिव्यदर्शी या मिस्टिक कहते हैं। अगर आप जीवन को वैसे नहीं देखते, जैसा वह है तो इसका मतलब है कि आप मिस्टिक नहीं मिस्टेक हैं (गलती कर रहे हैं)। अब हम सब मिलकर उस गलती को सुधारने की कोशिश कर रहे हैं। आपके साथ जो कुछ भी घटित होता है, वह उस तरह से इसलिए घटित होता है, क्योंकि वह आपके मन के पर्दे पर उसी तरह से प्रतिबिंबित होता है। हम आइने के उदाहरण से इसे समझने की कोशिश करते हैं। आपके घर पर जो आइना है, वह अगर रोज अपना आकार बदल ले, तो आपको कभी समझ ही नहीं आएगा कि आप कैसा दिखते हैं। इसीलिए पतंजलि ने योग की बहुत ही आसान और टेक्...