Wednesday, May 25Welcome to hindipatrika.in

स्वास्थ्य

क्या स्पाइनी चुहिया (Female Spiny Mice) को भी पीरियड्स होती है? जाने पूरा सच !

क्या स्पाइनी चुहिया (Female Spiny Mice) को भी पीरियड्स होती है? जाने पूरा सच !

प्रेगनेंसी-पेरेंटिंग, महिलाएं, मुख्य, स्वास्थ्य
महिलाओ में हो रहे पीरियड्स से होने वाले दर्द, थकान जैसे दिक्कतों को दूर करने के लिए नए - नए प्रयोग होता रहा हैं. इसके लिए कई तरह के जानवरों के ऊपर भी रिसर्च कीये गए लेकिन सफलता नहीं मिली इस बात को ले कर वैज्ञानिकों के बीच काफी बड़ा मुद्दा बनता चला गया, बाद में एक बड़ी सोध और चर्चा के बाद स्पाइनी चुहिया (Female Spiny Mice) को माहवारी क्लब में सामील किया गया । आप को बता दें की इस धरती पर ऐसे दो जानवर चमगादड़ और छिपकली जो अपने घावों को बहुत तेजी से ठीक कर लेते है. इस तरह के छमता को एकोमिस कैहिरिनस (Acomys cahirinus) कहते हैं। ठीक इसी तरह स्पाइनी चुहिया (Female Spiny Mice) भी अपने घावों को बहुत तेजी से ठीक कर लेती है। इस चुहिया के भी पीरियड्स आते हैं। अब आप सोच रहें होंगे की आखिर ऐसा कौन आदमी था जिसने स्पाइनी चुहिया में पीरियड्स आते हैं इस बात की खोज की, तो हम आप को बता दें की इसकी  ब
क्या कभी हो पाएगा महिलाओं के पीरियड्स का ‘इलाज’? ज्ञानिकों के सामने बड़ा सवाल आज भी बरकरार है

क्या कभी हो पाएगा महिलाओं के पीरियड्स का ‘इलाज’? ज्ञानिकों के सामने बड़ा सवाल आज भी बरकरार है

महिलाएं, मुख्य, स्वास्थ्य
इलाहार्मोंस में गड़बड़ी या असंतुलन से होती है अनियमित माहवारी पीरियड्स / मासिक धर्म महिलाओं में होने वाली कॉमन प्रॉब्लम है। जी हाँ आप ने बिल्कुल सही पढ़ा लेकिन ये सुनने में जितना कॉमन प्रॉब्लम लग रहा है कभी कभी यह बेहद गंभीर बीमारी बन जाती है। लेकिन जब इरेग्युलर पीरियड्स की समस्या आए तो हमें नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। इससे ग्रस्त महिलाओं को कई प्रकार की समस्याएं होने लगती हैं। यदि इरेग्युलर पीरियड्स  की समस्या हो तो इसके लक्षण की पहचान कर समय से इसका इलाज करवाना चाहिए।    पीरियड्स क्या है ? पीरियड्स महिलाओ में होने वाली एक ऐसी प्रक्रिया है जो महिलाओ ने कम से कम 1 बार होत है  जो एक गर्भधारण की तैयारी की प्रक्रिया है इसका संचालन हॉर्मोन्स करते हैं. इस प्रक्रिया भ्रूण , गर्भाशय के अंदर पनपता है जो  कोशिकाओं को मिला कर एक परत बनती है, उसे एंडोमेट्रियम (Endometrium) कहते
मच्छरों से जुड़े कुछ रोचक तथ्य क्या है? जिसे आप जान कर हैरान हो जाएंगे | Some interesting facts related to mosquitoes in Hindi?

मच्छरों से जुड़े कुछ रोचक तथ्य क्या है? जिसे आप जान कर हैरान हो जाएंगे | Some interesting facts related to mosquitoes in Hindi?

दुनिया, मुख्य, स्वास्थ्य
मच्छर एक ऐसा नाम, जिसके नाम में तो कोइ दम नहीं लेकिन इनके कारनामे से आज पूरी दुनिया परेसान और हैरान है, आज के समय में देखा जाए तो दुनिया का सबसे खतरनाख जानवर मच्छर है क्योंकि मच्छर के चलते दुनिया में सबसे अधिक मौतें होती है, एक आकडा के अनुसार हर 45 सेकंड एक बच्चे की मौत हो जाती है। इतना कुछ हो जाने के बाद भी लोग मच्छरों को ले कर जागरूप नहीं है जिसका नतीजा हर साल लाखों लोगों को अपनी जान गवानी पड़ती है। आज मैं आप को मच्छरों से सम्बंधित कुछ रोचक तथ्य  बताने वाला हूँ , आप से अनुरोध है कि इस article को आप अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें, क्योंकि काफी मेहनत के बाद मै ये सब लिख पता हूँ ताकि दुनिया के अधिक से अधिक लोगों को बता सकूँ । (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); कृपया रुकें, ऐसे article  को बिना पढ़ें ना जाएं। जी मै आप से ही बोल रहा
क्या आप दुनिया का सबसे खतरनाक मच्छर के बारे में जानते है?, जिसके चलते हर साल लाखों लोगों की जाती है जान

क्या आप दुनिया का सबसे खतरनाक मच्छर के बारे में जानते है?, जिसके चलते हर साल लाखों लोगों की जाती है जान

मुख्य, स्वास्थ्य
आप ने बिल्कुल अब तक सही पढ़ा, क्या आप जानते है दुनिया के सबसे खतरनाक मच्छर के बारे में ? क्या आप जानते है की दुनिया में मच्छरों की प्रजातियो के बारे में? क्या आप जानते है की किस प्रजाति एक मच्छर  के चलते सबसे अधिक लोग अपनी जान गवां देते है ? दुनिया के किस प्रजाति के मच्छर पर कॉइल, अगरबत्ती, धुएं या स्प्रे ना के बराबर काम करता है ? क्या आप जानते है मच्छर  के जीवन चक्र के बारे में ? क्या आप जानते है की हमारे घरों में आमतौर पर सबसे ज्यादा कौन से प्रजाति के मच्छर पाए जाते है ? क्या आप जानते है की डेंगू, मलेरिया और जीका किस मच्छर के काटने के चलते होता है ? क्या आप जानते है  किस दिन वर्ल्ड मॉस्किटो डे मनाया जाता है ? यदि नहीं तो चलिए जानते है इस सबके बारे में, (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); पहले आप को बात दें की मच्छरों ह
देश में जीका वायरस के केस बढ़ें, सावधानी जरूरी – Zika Virus

देश में जीका वायरस के केस बढ़ें, सावधानी जरूरी – Zika Virus

स्वास्थ्य
देश और दुनियाँ वैसे भी कोरोना संक्रमण से बाहर नहीं निकाल पाई है ऐसे में एक और Virus ने पैर पसारना चालू कर दिया है अब हालत ये है की भारत के कई शहरों  Zika Virus चपेट में आ चुका है। सरकार ने स्वास्थ्य विभाग को अलर्ट कर दिया है इस वायरस ने लोगों में हड़कंप मचा दिया है, इस लिए इस virus को ले कर प्रशासन भी अलर्ट कर दिया गया है, खास कर उन शहरों में जहाँ जीका virus के केस मिल रहे हैं। जीका वायरस फैलने का मुख्य कारण क्या है ? मुझे पता है कोरोना के बाद आप सोंच रहें होंगे की ये जीका  कहाँ से आया ? यदि एक्सपर्ट डॉक्टर्स की माने तो इस Virus बेहद खतरनाक  है इस लिए इससे सावधानी रखना बेहद जरूरी है क्योंकि ये Virus मच्छर के कारण फैलता है, आप को बता दें की जिका के लक्षण महसूस होते है समय पर इलाज किया गया तो स्थिति कंट्रोल हो सकती है वर्ना थोड़ा भी लापरवाही भरी पड़ सकती है। यदि
कैंसर: – लक्षण दिखने के 4 साल पहले ही अब ब्लड टेस्ट की पकड़ में आ जाएगा कैंसर

कैंसर: – लक्षण दिखने के 4 साल पहले ही अब ब्लड टेस्ट की पकड़ में आ जाएगा कैंसर

मुख्य, स्वास्थ्य
कैंसर को ले कर अच्छि खबर या रही है शोधकर्ताओं का कहना है की पांच प्रकार के कैंसर को चार साल पहले ही पता लगाया जा सकता है, पहले की जो टेस्ट के तरीके है उन तरीकों से काही ये बेहतर तरीका है. इस ब्लड टेस्ट के जरिए 95 % लोगों में कैंसर का पता आसानी से लगा सकता है. जिसपर अभी काफी सोध चल रहा है. उम्मीद है की इसके जरिए काफी लोगों को राहत होने वाली है. दुनिया के तमाम देशों में कैंसर बहुत सारे शोध चल रहा है, जिसमे कैंसर के लक्षण, टेस्ट और इलाज सम्बंधित ऐसे तमाम चीजों को ले का गहन अध्ययन चल रहा है. आप को बात दें की पूरी दुनिया में कैंसर के चलते हर साल लाखों लोगों की मौत हो जाती है. जिसको ले कर पूरी दुनिया के डॉक्टर्स और शोधकर्ता लगे हुए है. शोधकर्ताओं के रिपोर्ट के बाद डॉक्टर्स को एक नई उम्मीद जागी है, आप ओ बात दें की ये शोधकर्ता चीन के है जिन्होंने कैंसर के लक्षणो के जांच को ले कर दावा दिया
तर और सूखी खांसी के 5 घरेलू नुस्खे – Corona में सुखी खांसी के लक्षण है? Home Remedies for Cough.

तर और सूखी खांसी के 5 घरेलू नुस्खे – Corona में सुखी खांसी के लक्षण है? Home Remedies for Cough.

कोरोना, घरेलू नुस्खे, मुख्य
खांसी बदलते मौसन मे होने वाली बीमारी में से एक है, खांसी हर मौसन में होती है यह एक आम रोग है जो हर किसी को होती है. लेकिन तर और सूखी खांसी होने पर लोगों को काफी घबराहट होती है, Corona महामारी के चलते लोगों में खांसी को ले कर काफी दहसत है क्योकि लोगों को सामान्‍य खांसी और Corona में होने वाले खांसी के बीच का अंतर समझ नहीं पाते है. पूरे दुनिया में Corona Virus महामारी के वजह से संक्रमण की संख्‍या बढती जा रही है. पूरे दुनिया परेवाना है, करोड़ो लोग इस बीमारी से संक्रमित हो गए है और हजारों लोग की जाने जा चुके हैं. पूरी दुनिया के वैज्ञानिक corona महामारी के वैक्सीन और रोकथाम के लिए दिन-रात लगे हुये है. बहुत सारे वैक्सीन बन चुके है जो ट्रायल पर है. डॉक्‍टरों और वैज्ञानिकों की माने तो corona खांसी और आम मौसन में होने वाले खांसी दोनों के बीच में फर्क किया जा सकता है. Corona में होने वाले खांसी क
कमर और पीठ दर्द को दूर भगाये – योग अपनाये – मरिचियासन

कमर और पीठ दर्द को दूर भगाये – योग अपनाये – मरिचियासन

योगा
आज के परिवेश में कमर और पीठ दर्द की समस्या लोगो में आम हो गयी  है। ये समस्या  केवल पुरुषो में नहीं बल्कि महिला और पुरुष  और बच्चो में भी होती है। लेकिन पुरुष की तुलना में यह औरतो में ज्यादा देखने को मिलती है| चाहे महिला  ऑफिस में काम करती हो , या फिर घर के काम करने वाली घरेलू महिला हो , इस समस्या से अधिकतर महिलाओ को दो चार होना ही पढता है| कमर दर्द होने पर ज्यादा तर महिलाये या तो दर्द सहे या तो दवाओ का सहारा ले । जब की प्राकृतिक रूप यह दोनों ही सही नहीं है । प्राकृतिक रूप से कमर दर्द को दूर करने के लिए योग का सहारा लेना चाहिए | योग के अंतर्गत आने वाला मरिचियासन कमर दर्द से तो छुटकारा दिलाता ही है जो की महिला और पुरुष दोनों के लिए यह योग का आसन फायदेमंद है । मरिचियासन की विधि, लाभ और सावधानी मरिचियासन की विधि: - - यह योगासन करने से के लिए सबसे पहले चटाई बिछा ले और उस पर दोनों पैरो को आ
बार-बार होती है पैरों व हाथ में जलन तो ट्राई करें ये 8 घरेलू नुस्खे, जल्द दूर हो जाएगा दर्द और मिलेगी राहत

बार-बार होती है पैरों व हाथ में जलन तो ट्राई करें ये 8 घरेलू नुस्खे, जल्द दूर हो जाएगा दर्द और मिलेगी राहत

घरेलू नुस्खे, मुख्य
पैरों में जलन एक आम समस्या बनती जा रही है, आज कल के भाग दौड़ की जीवन मे उचित खान पान नहीं मिल पता है जिससे तमाम सारे परेसनियों का सामाना करना पड़ता है | जिसमे कुछ व्यक्ति की शिकायत होती है की उसके पैरों और हाथ मे जलन और झनझनाहट होती है, जिसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता | यही आप के साथ ऐसी स्थिति आती है तो आप अपने डॉक्टर से बात करें | इस तरह के समस्या के कारणों को अपने डॉक्टर से समझना चाहिए। यदि आप ऐसे समस्याओं को नजरअंदाज करते है तो हो सकता है की आगे चलकर आप को और गंभीर रूप ले सकता है जिससे तमाम सारी परेसनियाँ हो सकती हैं | क्यों की इस तरह के प्रॉब्लेम से आप को डायबिटीज (Diabetes), हाइपोथायराइडिज्म (Hypothyroidism), ब्लड प्रेशर (blood pressure), पोषण की कमी और किडनी रोग जैसी तमाम स्वास्थ्य समस्याएं आपके पैरों में जलन का कारण हो सकती हैं। इसके अलावा कभी-कभी आपके पैर सुन्न भी हो सकते हैं।
रात्री मे कितने बजे तक सो जाना चाहिये

रात्री मे कितने बजे तक सो जाना चाहिये

स्वास्थ्य
यह एक ऐसा सवाल है जो हर कोई जानने मे रुचि रखता है, तो आइए हम जानते है | भारत हमेस से एक खोज की भूमि रही है जो सदियों से मानव चेनता के विकास के साथ साथ शारीरिक, आध्यात्मिक और सामाजिक पहलुयों पर भी गहरी खोज और उसे सुचारु रूप से व्यस्थित कार्यान्वित करने की कोसिस होती रही है | यदि बात करें निंद्रा की तो यह हमारे मांसिक और शरारिक दोनों पर गहरा असर डालती है | हमारे ऋषि-मुनियों ने भी निंद्रा को ले कर बहुत कुछ बताए हैं | रात्री मे सोने का समय :- यदि आप रात मे किसी कारण वस 10.00 तक नहीं सो पाएं , तो आप कोसिस करें की 10.30 तक सो जाएं अथवा कोसिस करें की आप अधिकतम 11.00 बजे तक तो सो ही जाएं अन्यथा ये आप के मांसिक और शरारिक दोनों पर गहरा असर डालती है | बहुत से लोग इस बात को अफवाह मानते है, और लोग इस बारे मे अपने अपने मत देते रहते है | जैसे चाउमीन, गुटखा, खैनी, सराब और ऐसे तमाम ची