Monday, September 20Welcome to hindipatrika.in
Shadow

कोरोना: 8 लक्षण यदि आप के शरीर में दिख तो समझ लें की आपको की डॉक्टर्स मदद की जरूरत है, घबराएं नहीं

कोरोना, एक ऐसा नाम जिससे पूरी दुनिया अच्छी तरह से परिचित है, कोरोना वायरस जिसके चपेट में पूरी दुनिया आगे बढ़ती जा रही है, जिसका अभी तक कोई ठोस इलाज नहीं बन पाया है, वैज्ञानिकों का कहना है यदि इस बीमारी से बचना है तो पूरे मानव जाती को Staying at home को फॉलो करना पड़ेगा, इस बीमारी के लक्षण आम सर्दी-जुकाम के तरह है जिसे पहचान पाना काफी मुस्किल होता है, बिना लैब टेस्ट के इसके लक्षण जान पान मुस्किल है, कई लोगों में तो इस बीमारी के लक्षण काफी देर से नजर आता है, आइए हम जानते है की शरीर में इस बीमारी के कौन- कौन से प्रमुख लक्षण है, यदि आप को ये लक्षण दिखे तो डॉक्टर्स की मदद जरूर लें, क्योंकी आप जितना जल्दी इस रोग को समझ पाएंगे आप उतना ही सेफ है |

1. सूखी खांसी: – WHO और दुनिया की सभी शोधकर्ताओं द्वारा जारी एक रिपोर्ट में साफ-साफ बताया गया है कि यदि आप को सूखी खांसी आनी शुरू हो होती है और अगर आपको साँस लेने मे परेशानी हो रही है तो आप बिना देर कीये तुरन डॉक्टर से मिलें |

2. बंद या बहती नाक :- वैसे तो बंद या बहती नाक आम बात है लेकिन कोरोना भी लक्षण देखे गए हैं, लेकिन ये जरूरी नहीं है की ऐसे में आप को कोरोना वायरस हो, जैसा की सभी जानते है की आमतौर पर ठंड लगने की वजह से भी नाक बहने लगती है, WHO (डब्ल्यूएचओ) की रिपोर्ट में पता चला है की 5 फीसदी ही बहती नाक वाले मरीज है जो  कोविड-19 में पोजेटिव है|

3. तेज बुखार:- अभी तक के सुरुवाती आकड़ों में ज्यादा तर मरीजों में देखा गया है की उनको सुरुवाती में तेज बुखार हो जाता है ऐसे में उसके शरीर का तापमान बहुत ज्यादा बढ़ जाता है, वैसे तो बदलती मौसम में बुखार  होना आम बात है, भारत जैसे देश में गर्मियों के समय में लू और बुखार तो होती रहती है लेकिन कोरोना के लक्षण के दावों में बुखार गलत नहीं है इस लिए यदि आप को बुखार् होता है तो एक बार अपने डॉक्टर से जरूर संपर्क करें | क्योंकी ऐसे कई हेल्थ एक्सपर्ट तेज बुखार में भी कोरोना वायरस के लक्षण के दावा कर चुके हैं |

4. सांस फूलने/ लेने में तकलीफ:- वैसे तो कोरोना के बहुत सारे लक्षण है लेकिन सबसे ज्यादा कोरोना मरीजों में देखा गया है की पहले 05 -10 दिनों में ही सांस फूलने लगती है ऐसे में सांस लेने में तकलीफ होने लगती है बहुत सारे रिपोर्ट में ये बात साबित हो चुका है ऐसा तब होता है जब फेफड़ों में बलगम फैलने लगता है| यदि आप को खांसी होती भी है तो आप तुरंत डॉक्टर से मिलें | वैसे तो दमा में भी ये सिकायत होती है लेकिन फिर भी यदि आप को सुखी खांसी है तो एक बार अपने डॉक्टर से जरूर सलाह लें |

5. मांसपेशियों में दर्द या ठंड लगना:- मांसपेशियों में दर्द या ठंड लगना ये मौसम के बदलते तौर तरीके के चलते भी होता है, वैसे मलेरिया या टाइफाइड जैसे रोगों में भी काफी देखने को मिलता है, लेकिन आज के समय में जिस तरह के कोरोना वायरस रूपी महामारी फैलती जा रही है उसको ध्यान मे रखते हूएं आप अपने डॉक्टर से जरूर संपर्क करें क्योंकी ये लक्षण वायरस के लक्षण हो सकते हैं, WHO की रिपोर्ट के अनुसार, अभी तक जीतने भी कोरोना के आकडे आयें है उसमें से 11% लोगों में ठंड लगने और 14 % लोगों के लक्षणों में मांसपेशियों में दर्द जैसे लक्षण देखें गयें है, जो की एक चिंता का सबब बनता जा रहा है? ऐसे लक्षण एक गंभीर बीमारी का मैसेज भी हो सकता है इसलिए आप तुरंत अपने डॉक्टर से सलाह लें |

6. डायरिया की शिकायत: – चीन के एक मीडिया रिपोर्ट में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार 3% लोग ऐसे थे जिन्हें डायरिया की शिकायत थी, यदि WHO (विश्व स्वास्थ संगठन) की रिपोर्ट देखें तो ये साफ होता है की चीन में डायरिया से संबंधित कोरोना के मरीज भी मिले है जब की ऐसे आकड़ें किसी-किसी देश में ही देखने को मिलें है |

7. बेचैनी और उठने-बैठने में तकलीफ: – ऐसे आकड़ें ज्यादा तर अमेरिका के वॉशिंगटन नर्सिंग होम के  हालिया रिपोर्ट में देखने को मिला है, उनके रिपोर्ट के मुताबिक लगभग एक तिहाई लोगों का Corona वायरस टेस्ट पॉजिटिव आया था, जिसमे से कुछ मरीजों में बेचैनी और उठने-बैठने में तकलीफ जैसे असामान्य लक्षण थे | वैसे तो वे देखने में सामान्य थे देखने से ऐसा कुछ भी नहीं लग रहा था की इनको corona है | ऐसे में आप घबड़ाएं नहीं क्योंकी ये ब्लड प्रेसर के मरीजों में भी सामान्य लक्षण होता है और तनाव के समय भी ऐसे लक्षण देखने को मिलते है | यदि ज्यादा बेचैनी और घबडाहट हो रही हो तो एक बार अपने डॉक्टर से जरूर सलाह लें |

8. छींक आना और गले में खराश: – ये एक सामान्य रोगो में से एक है, भारत जैसा देश में बदलते मौसन के चलते अक्सर होता रहता है, एलर्जी या सर्दी के चलते भी छींक आना और गले में खराश जैसे समस्या होती है, फिर भी corona (कोरोना) पॉजिटिव कुछ मरीजों में छींक आना और गले में खराश होने जैसी समस्या देखी गई है, लेकिन अभी तक इसका कोई आकड़ा सामने नहीं आया है ऐसे समस्यों से आप डरें नहीं क्योंकी छींक आने का मतलब यह बिल्कुल भी नहीं है कि आप को कोरोना हुआ है | लेकिन ऐसे में आप को एक बात का ध्यान रखना होगा की आप को जब भी छींक आए तो आप अपने नाक और मुख को अपने हाथ से धक लें |

क्या है कोरोना से बचाव के उपाय ?

कोरोना एक ऐसे बीमारी का नाम जिससे हर कोई परिचित है, यह एक महामारी है जो तेजी से फैलता जा रहा है जिसके चपेट में पूरी दुनिया या चुकी है |

अभी तक कोरोना के कोई परमानेंट इलाज नहीं है और ना ही कोई दावा, ऐसे में यदि आप को इन लक्षणों में से कुछ भी महसूस होता है तो आप खुद को एक रूम/कमरे में आइसोलेट कर लें, डॉक्टर से संपर्क करें और अपने लक्षणों की जानकारी दें, घर में रह कर खूब सारे तरल पदार्थ लें|

यदि आप के आस-पास नीम के पत्ती मिले तो उसे गरम पानी में उबाल लें और ठण्डा होने पर उस पानी से स्नान करें |

आप सुबह बिना कुछ खाएं पपीते के पत्ता का अच्छे से घोल बना लें और 2 चम्मच लें, ये प्रक्रिया 10 दिन तक करें | साथ ही पपीते का पत्ते पीने के आधे घंटे के बाद तुलती, अदरख, लवंग, काली मिर्च के काढ़ा बना कर लें |

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share via
Copy link
Powered by Social Snap