Thursday, July 25Welcome to hindipatrika.in

क्या आप भी हो गए हैं Cyber Fraud के शिकार? ऑनलाइन धोखाधड़ी होने पर घबराए नहीं, बस डायल करें ये 4 अंक, वापस मिल जाएंगे सारे पैसे!

आज के समय में Cyber Crime की घटनाएँ लगातार बढ़ती जा रही है , प्रतिदिन लोग किसी न किसी घटना का शिकार बनते जा रहे हैं। इन्हीं घटनाओं पर रोक लगाने के लिए सरकार ने एक Helpline Number – 1930 जारी किया जिसपर कॉल करके आप अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं। 

क्यों है इस नंबर की जानकारी होना जरुरी ?

पूरी जानकारी न होने के कारण पहले लोग अपनी शिकायत दर्ज नहीं करवा पाते थे ,जिससे इस घटना होने की संभावना और बढ़ जाती थी और Cyber Fraud  की घटनाओं को और प्रोत्साहन मिलता था।  इन घटनाओं से मध्यम वर्गिये लोगो पर सबसे ज्यादा असर  पड़ता हैं , इन फ्रॉड के कारण कभी- कभी इन्हें अपनी जीवन भर की पूंजी से हाथ धोना पड़ता है। 

इस हेल्पलाइन नंबर को सभी तक पहुंचाने के लिए सरकार ने कई तरह के प्रचार भी किए जिससे यह जानकारी अच्छी तरह सभी तक पहुँच सके।  

Helpline number का प्रयोग करके आप अपने साथ हुई घटना के बारे में Complain लिखवा सकते हैं, आपके साथ हुई घटना के बारे में पूरी जानकारी देकर आप साइबर क्राइम पुलिस  की सहायता कर सकते हैं जिससे मुजरिमों को पकड़ने में आसानी हो |

शिकायत करने के लिए पहले इस्तेमाल किया जाता था दूसरा नंबर 

पहले साइबर फ्रॉड से जुडी किसी भी घटना के बारे में जानकारी देने के लिए लोग 155260 नंबर का इस्तेमाल करते थे , पर बाद में इस नंबर को बदल कर 1930  कर दिया गया। इसके पीछे का कारण यही है कि पहले वाले नंबर 155260 के थोड़ा कठिन होने के कारण लोगों को इसे याद रखने में या इस्तेमाल करने में थोड़ी परेशानी होती थी इसलिए बाद में गृह मंत्रालय ने Dot के साथ मिल कर इस नंबर 1930 को जारी करने का फैसला लिया।  

कैसे काम करता है ये हेल्पलाइन नंबर

किसी भी तरह का साइबर क्राइम होने के बाद सबसे पहले विक्टिम को इस नंबर पर कॉल करना चाहिए।  इसके बाद आपको cyber crime की

वेबसाइट पर जाकर एक फॉर्म भरना होता हैं जिसमे आपसे आपके साथ हुई घटना के बारे में पूरी जानकरी ली जाती हैं की यह फ्रॉड आपके साथ कब हुआ और कैसा हुआ , ये फॉर्म भरने के बाद एक टिकट फाइनेंशियल इंटरमिडियरीज (FI) कंसर्न के साथ जेनरेट होता है। 

जिस अकाउंट में विक्टिम के साथ किये गए फ्रॉड की राशि गयी हैं , उस आकउंट को ट्रेस किया जाता हैं।  अगर उस अकाउंट से  फंड को मूव किया जा चुका है तो फिर अगले Fl को इसकी डिटेल्स शेयर की जाती है और fund नहीं मूव हुआ है तो उस ट्रांसक्शन को होल्ड कर दिया जाता जिससे वो राशि फ़्रॉडी निकाल न सके। 

इसलिए कहा जाता है की ऐसी किसी भी घटना की जानकारी तुरंत दे , नहीं तो देर करने पर राशि वापस मिलने की सम्भावना बहुत काम हो जाती है। 

Online Shopping करते समय fraud से कैसे बचें ?

आजकल कि टेक्नोलॉजी के कारण शॉपिंग करना आसान हो गया है – Online Shopping के माधयम से। पर इसी तकनीक के साथ एक बहुत बड़ी समस्या भी साथ आती है – Online fraud 

 Online shopping करते समय उसके साथ होने वाले fraud से बचने के लिए नीचे दी गयी इन बातों का जरूर ध्यान रखें। । 

  • Online Shopping करते समय किसी भी तरह कि जल्दबाजी न करें। 
  • कभी भी अच्छी तरह न जान ने वाली वेबसाइट का उपयोग ना करें। 
  • अगर हो सके तो कैश ऑन डिलीवरी ऑप्शन का ही चयन करें। 
  • किसी भी न जानने वाले लिंक पर क्लिक न करें। 
  • पेमेंट करते समय आने वाले OTP को किसी दूसरे से शेयर न करें।  

यह सब सावधानी बरत के आप अपने आप को फ्रॉड का शिकार होने से बचा सकते हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share via
Copy link
Powered by Social Snap