Saturday, November 26Welcome to hindipatrika.in

What is Solid State Drive? सॉलिड-स्टेट ड्राइव SSD क्या है? Hindi Me

SSD जिसका पूरा नाम Solid State Drive होता है यह के प्रकार का storage device है जिसका इस्तेमाल डेटा को स्टोर करने के लिए किया जाता है, जो Data को एक flash memory में स्टोर करता है। जिस तरह आप के अपने लैपटॉप या कंप्युटर में HDD का इस्तेमाल Data को store करने के लिए लगा होता है ठीक वैसे ही SSD का इस्तेमाल होता है |

आप को बात दें की SSD थोड़ा फास्ट Data को स्टोर करता है जबकी HDD SSD से थोड़ा स्लो data store करता है।

अब आप सोच रहें होगें की speed slow और fast क्यों होता है ?

स्लो और फास्ट के कुछ मुख्य कारण है,

आप ने HDD हार्ड डिस्क ड्राइव तो देखा ही होगा उसमे एक डिस्क लगा होता है जो घूमता है जिसके चलते डेटा को find करने मे समय लगता है लेकिन SSD में एक प्रकार का चिप लगा होता है एक memory card की तरह जो धूमता नही है जिसके कारण इसकी स्पीड काफी तेज होती है।

अनुक्रम

  • SSD का फुल फॉर्म क्या है?
  • SSD कैसे काम करता है? और इसके क्या विशेषताएं है
  • SSD की विशेषताएं (Features of SSD): –
  • SSD के प्रकार
  • Fast Speed of SSD
  • Light Weight
  • Silent होता है
  • Low Power Consumption
  • क्या आप SSD और HDD का उपयोग एक साथ कर सकते हैं?
  • SSD और HDD में क्या अंतर है?
  • SSD और HDD में कौन अच्छाहै?
  • SSD इतना महंगा क्यूँ होता है?

SSD का फुल फॉर्म क्या है?

SSD का फुल फॉर्म Solid State Drive होता है।

आप ने बिल्कुल सही सुन इसका पूरा नाम “सॉलिड स्टेट ड्राइव” ही होता है |

SSD कैसे काम करता है? और इसके क्या विशेषताएं है:-

मैंने इसके बारे में आप को पहले ही ऊपर में चर्चा किया है,

जिसमे मैंने बताया था की SSD में एक चिप लगा होता है जैसे की मेमोरी कार्ड में लगा होता है, जब की HDD में चिप नहीं लगी होती है बल्कि डिस्क लगा होता है जिसके डेटा स्टोर में समय लगता है क्योंकी डिस्क घूमता है तो डेटा तक पहुचने में समय लगता है, यही एक मुख्य बजह है की SSD में डेटा तेज गति से स्टोर होता है |

इसके विशेषताएं जानने से पहले हम आप को बात दें की आज के समय में SSD लैपटॉप या कंप्युटर के लिए सबसे बेहतर स्टोर ड्राइव है,

आज के समय में अगर आप HDD स्टोर ड्राइव का उपयोग कर रहें है और आप का कंप्युटर या लैपटॉप configuration नॉर्मल है तो आप धीमी स्टॉरिज की समस्या से जूझ रहें होंगे और साथ ही साथ आप का कंप्युटर या लैपटॉप भी धीमा चल रहा होगा क्योंकी आज के समय में ऐप्लिकेशन और सॉफ्टवेयर इतने अड्वान्स हो गए है  और पहले के अपेछा data utilization भी ज्यादा हो गया है जिसके चलते ये प्रॉब्लेम आते है |

SSD की विशेषताएं (Features of SSD): –

वैसे तो इसके बहुत सारे विशेषताएं है जो एक टेक्निकल level पर बहुत ज्यादा हो सकती है लेकिन हम इसके मुख्य विशेषताओ के बारे में चर्चा करेंगे |

  • Fast Speed of SSD

SSD, HDD के अपेछा ज्यादा तेज होता हैं। क्योंकी इसमें आप को बेहतर Data access times मिलता है, जिसके चलते आप file transfers और receiving तेज गति से होता है।

  • Light Weight

Light weight मतलब हुआ की यह वजन में हल्के होते हैं आप ने HDD देखा होगा अगर आप डेस्कटॉप का HDD उपयोग कर रहें है तो वह ज्यादा वजनी होता है जबकी SSD हल्के होते है इसका सबसे बाड़ा कारण Flash Chip है जिसके चलते SSD हल्के होते हैं। चाहें आप लैपटॉप SSD की बात करें या Desktop SSD दोनों ही HDD के अपेछा काफी हल्के होते है |

  • Silent होता है

आप ने अक्सर देखा होगा की HDD configuration के लैपटॉप हीट होते है और disturbance उत्पन्न करते है जबकी SSDs काफ़ी चुप चाप से काम करते है।

  • Low Power Consumption

आप ने अक्सर देखन होता की HDD configuration के लैपटॉप के बैटरी बहुत consume होते है लेकिन SSD configuration में Power consume की समस्या कम होती है जिसके चलते बैटरी काफ़ी देरी तक चलती है क्योंकी लैपटॉप power कम इस्तमाल करता है

काफ़ी वक्त तक कार्य करने के बाद भी ये न के बराबर गर्मी पैदा करते हैं, SSD में एक प्रकार का  energy-efficient storage होते हैं इसलिए काफ़ी ठंड भी रहते हैं।

ऐसे बहुत से खासियत होते है, जब आप खुद SSD का उपयोग करगे तो आप वाकई पायेगे की सच मे SSD के उपयोग के कितने फायते है, मैंने इस ब्लॉग में कुछ पहलुओ को आप के साथ शेयर किया है, इसका जितना तारीफ करें, उतना कम है, मैं 2 साल से उपयोग कर रहा हूँ, अभी तक मुझे अच्छा लगा, मेरा लपटॉप भी फास्ट राहत है, जब मै अपना लैपटॉप Start करता हूँ या shut Down तब भी मेरा systems फास्ट प्रोसेस करता है|

जब कभी मै इंटरनेट या कोई application का उपयोग करता हूँ, मुझे काफी फास्ट प्रोसेस मिलता है इस लिए मै आप को suggest करूंगा की यदि आप कंप्युटर धीमी के समस्या से जूझ रहें है, आप लैपटॉप हिटिंग की प्रोबेलम हो रही है तो आप एक बार जरूर SSD का उपयोग करें ।

SSD के प्रकार – Type Of SSD

मै अप को बता दूँ की SSD के मार्केट में बहुत से प्रकार उपलब्ध है कुछ प्रकार जो मुझे पता है मै उसके साथ शेयर कर रहा हूँ जो इस प्रकार है.

  • MTS-SSD Disk
  • M.2 SSD Disk
  • SATA SSD Disk
  • SSHD SSD Disk

MTS-SSD Disk – MTS-SSD Disk की बात करें तो ये साइज में काफी छोटा होता है जो ज्यादा तर लैपटॉप यूजर के लिए होता है, ये देखने में भी काफी अलग होता है इसकी बनावट कुछ इस तरह से होती है की इसे लैपटॉप के अलावा काही और उपयोग करना मुसलिक होता है।

M.2 SSD Disk – यदि आप ने Msata को देखा होता तो ये बिल्कुल वैसे ही दिखाता है Msata काफी फास्ट काम करता है आप ऐसा समझे की यह डिस्क Msata का अपडेटेड वर्शन है वैसे ये बिल्कुल RAM की तरह काफी छोटा होता है जिसे आप अपने sata केबल से आसानी से कनेक्ट कर सकते है।

SATA SSD Disk – इस तरह के SSD आप के लैपटॉप में लाने हार्ड ड्राइव की तरह होता है और कनेक्टर भी Sata हार्ड ड्राइव की तरह ही होता है, मतलब आप इसे sata की तरह अपने लैपटॉप में कनेक्ट कर उपयोग कर सकते है।

अब आप सोच रहें होंगे की जब एक जैसा ही होता है तो पहचाने कैसे?

तो मै आप को बात दूँ की SSD वजन मे HDD से काफी हल्का होता है, साथ ही साथ थोड़ा पतला भी होता है अगर आप HDD अच्छे से देखा होगा तो SSD आप देख कर ही पहचान सकते है।

बाकी आप जो भी SSD लेंगे उसपर सबकुछ लिखा होगा, configuration के बारे में, आप अपने लैपटॉप या डेस्कटॉप configuration के अनुसार ही SSD लें।

SSHD SSD Disk – इसका का फुल फॉर्म SOLID State Hard Drive होता है| आप से सच बोलू तो अभी तक मैंने भी इस SSD को नहीं देखा है इस को SSD और HDD दोनों को मिलकर बना गया है। वैसे मार्केट मे अभी इसे खोजने से भी जल्दी नहीं मिलेगा क्योंकी ये जो नए लैपटॉप 2021 में मार्केट में आया रहे है उसमे से कुछ ही लैपटॉप में देखने को मिलता है |

इसके लाने के पीछे सबसे बाद कारण ये है की जो 2017 -2020 तक जीतने भी SSD के लैपटॉप आयें है उसमे ज्यादा तर लोगों को अलग से हार्ड ड्राइव लगाने पड़ते है, क्योंकी ज्यादा तर लैपटॉप में 256 gb तक के ही Solid State Drive उपलब्ध होते है कारण की Solid State Drive महगी होती है यदि कॉम्पनी 500 -1000 gb के Solid State Drive लगती है तो लैपटॉप एक दाम बढ़ जाते है, मार्केट मे सबसे ज्यादा वे लैपटॉप sale होते है जिनका price 35-45 हजार होते है और इन लैपटॉप में 256 gb हार्ड ड्राइव लगे होते है |

इंटरनेट के चलते deta सटोरींग, deta वर्क ज्यादा हो गया है जिसके चलते 256 gb का उपयोग करने के दौरान यूजर को अलग से HDD हार्ड ड्राइव लगवाने पड़ते थे, इस लिए अभी कुछ कॉम्पनी ने SOLID State Hard Drive मोडेल को तैयार कर लैपटॉप के साथ दे रही है जो minimum 500 -1024 gb के रेंज मे आती है।

क्या आप SSD और HDD का उपयोग एक साथ कर सकते हैं?

बिल्कुल उपयोग कर सकते है,

मैंने इसके लिए ऊपर भी चर्चा किया है की 256 gb SSD होने के कारण storage की परेसनी होती है तो यूजर को अलग से HDD का इस्तेमाल एक साथ करना पड़ता है।

इस लिए आप निश्चिंत रहें और आप चाहें तो एक साथ SSD और HDD का उपयोग अपने लैपटॉप या कम्प्यूटर में कर सकते हैं। आप को कोई भी समस्या उत्पन्न नहीं होती ।

SSD और HDD में क्या अंतर है?

SSDSolid State Drive HDDhard disk drive
इसकी स्पीड काफी तेज होती है। यह स्पीड में काफी स्लो होती है।
इसकी कीमत बहुत ज्यादा होता है। इसकी कीमत ssd से बहुत कम होता है।
SSD में storage छमता कम होता। इसमे storage बहुत ज्यादा होता है।
इसमे मूविंग पार्ट न होने के वजह से यह काफी सुरक्षित रहता है, data लॉस के चांस कम राहत है। HDD में मूविंग पार्ट होता है तो HDD SSD उतना सुरक्षित नही रहता है।
बिजली बहुत कम खर्च होती है । मतलब Power Consumption कम होता है । HDD बिजली बहुत ज्यादा खर्च करती है। मतलब Power Consumption ज्यादा होता है ।
इस तरह के लैपटॉप में डेटा को रीड करने पर कोई आवाज नही आती है। लैपटॉप में जब भी कोई data को रीड किया जाता है तो आवाज आती है।
इस तरह के लैपटॉप कम गर्म होते है। इस तरह के लैपटॉप में heating की समस्या रहती है।

SSD और HDD में ऐसे बहुत से अंतर है, मैंने आप को कुछ मुख्य अंतर ही बतायें है, टेक्निकल लेवल पर ऐसे बहुत से बाते है जो “सोलीड स्टेट ड्राइव” को सबसे खास बनती है, आज भी जो Cloud server है उसमें भी SSD का उपयोग ज्यादा होता है कारण इसके बेहतरीन खासियत |

SSD और HDD में कौन अच्छा है?

इस सवाल के जबाब तो आप जान ही गए होगें, उपेर मैंने जो कुछ विशेषताएं बतायें है उससे ये साफ होता है की  SSD ज़्यादा बेहतर है। यदि आप कोई भी लैपटॉप लेने जा रहें है तो आप सोच कर ही लें, “सोलीड स्टेट ड्राइव” थोड़ा आप को महगीं पड़ेगी लेकिन आगे आने वाले बहुत से समस्यों से मुक्ति दिला देगी ।

यदि आप मेरा अनुभव जानना चाहते है तो SSD सबसे अच्छा है आप इंटरनेट और ऐप्लिकेशन काफी अच्छे से चला पायेगे।

SSD इतना महंगा क्यूँ होता है?

आप को बात दें की आप मार्केट में जो कुछ खरीदेंगे, उसके महगें होने के बहुत से कारण हो सकते है जिसमें से 2 मुख्य कारण होते है।

  1. नयी technology और ज्यादा खासियत
  2. ज्यादा मांग और कम उत्पादन

SSD के लिए पहला मुख्य कारण है क्योंकी यह flash Chips memory technology के इस्तमाल करके बनाया गया है जो काफी क़ीमत होती है। इसके महंगा होने का मुख्य कारण है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share via
Copy link
Powered by Social Snap