Monday, June 27Welcome to hindipatrika.in

कंप्‍यूटर क्‍या है ? What is Computer ?

What is Computer

Computer एक electronic device और programmable machine है जो programming instructions को execute करता है उसको respond करता है।

अगर हम Oxford Dictionary की बात करें तो कंप्यूटर का अर्थ है electronic Machin है जो कंप्यूटर एक स्वचलित है program के माध्यम से जिसका उपयोग अनेक प्रकार की तर्क पूर्ण गणनाओ (Logical calculation) के लिए प्रयोग किया जाता है।

यदि साफ साफ शब्दों में बात करें तो computer एक electronic device है जो यूजर द्वारा प्राप्त information को एक command या प्रोग्राम के अनुसार analyses करके कम समय में unique और विश्वसनीय परिणाम रिजल्ट को देता है।

कंप्यूटर (Computer) शब्द अंग्रेजी के “Compute” से बना है , जिसका अर्थ है “गणना” (calculation) करना होता है | मुख्यतः इसका अविष्‍कार “गणना” Calculation करने के लिये हुआ था और इसका उपयोग भी Calculation के लिए होता था | इसीलिए इसे गणक या संगणक मशीन भी कहा जाता है | लेकिन समय के साथ – साथ इसकी उपयोगिता और प्रारूप भी बड़ा  होता  जा रहा है | आज के समय इसका उपयोग (use ) इन्टरनेट (Internet ), ईमेल (E-mail- Electronic Mail), watching & Listening videos & Audio,database preparation, play games, automatic drive, Audio & video mixing & Editing, Photo Editing इसके अलावा Educational Academy में, Office, Bank में, shop में, security में भी किया जा रहा है |

यदि हम सीधे कहें तो आज के समय कंप्यूटर के बिना अधुरा है| आने वाले समय में इसकी उपयोगिता इतनी तेजी से बढाती जा रही है जिसका हम कल्पना नहीं कर सकते |

कंप्युटर क्या है? मेरे समझ से आप जान चुके होंगे।

अब आप सोच रहें होंगे की क्या computer का full form भी होता है?

जी हाँ, कंप्युटर का full form भी होता है,

चलिए जानते है की कंप्युटर का full form क्या है?

COMPUTER = C.O.M.P.U.T.E.R. = Common, Operating, Machin, Particular, Used for, Trade, Education, Research

अब आप सोच रहें होंगे की ऊपर में, मैंने ये सब क्या लिख दिया ?

तो मै बात दूँ की ये COMPUTER का full form है,

चलिए हम थोड़ा अच्छे से format करके जानते है।

COMPUTER = C.O.M.P.U.T.E.R.

       C = Common (सामान्य)

               O = Operating (चलना)

               M = Machin (यंत्र)

               P = Particular (विशेष रूप से)

               U = Used for (इस्तेमाल के लिए)

               T = Trade (तकनीकी)

               E = Education (शिक्षा)

               R = Research (खोज)

कंप्युटर = सामान्य रूप से चलाने वाला एक ऐसा यंत्र जिसका इस्तेमाल विशेष रूप से तकनीकी, शिक्षा, खोज के लिए किया जाता है, उसे कंप्युटर कहते है।

जाने कुछ और भी :-  Mouse क्या है? कम्प्युटर माउस कैसे काम करता है? 

कुछ लोग कंप्यूटर  (Computer) को सुपरमैन मानते है लेकिन ऐसा नहीं है| यह केवल एक इलेक्ट्रॉनिक (Electronic ) मशीन ( Machine ) जो स्वचालित और तीव्र गति से कार्य करता है और इसकी क्षमता सीमित है । हिन्दी में इसे संगणक कहते हैं । इसका उपयोग बहुत सारे सूचनाओं को प्रोसेस करने तथा इकट्टा करने के लिए होता है ।

इतना कुछ जानने के बाद भी कुछ लोग सोंच रहें होंगे की आखिर इसका नाम computer ही क्यों रखा गया?

चलिए, हम जानते है इसके थोड़े से history के बारे में, की आखिर कंप्युटर ही नाम क्यों रखा गया?

आप को बता दें की कंप्यूटर शब्द की उत्पत्ति compute शब्द से हुई है, कंप्यूट का मतलब होता है गणना अंग्रेजी में कैल्क्यलैशन (calculation) करना अथवा जिसे आप गिनती करना अंग्रेजी में काउन्ट (count) करना भी कह सकते है।

इसीलिए कंप्यूटर को एक संगणक युक्ति यंत्र, जिसे अंग्रेजी में computing device भी कहते है।

एक व्यक्ति ने मुझसे पूछा की कंप्युटर को शुद्ध हिन्दी में क्या कहते है ?

मै बात दूँ की सच में काफी लोगों को पता नहीं की computer को शुद्ध हिन्दी में क्या कहते है?

चलिए जानते है,

कंप्यूटर को शुद्ध हिंदी भाषा में अभिकल यंत्र (Programmable Machin) कहते है इसे संगणक (computing) भी कहा जाता है। 


Features / Characteristics of Computer (कम्प्यूटर की विशेषताएँ ):-

तीव्र गति (Speed)से कार्य करता है, जो की कुछ ही Second में गुणा, जोड़, घटाव, भाग जैसी लाखो क्रियाएँ कर सकता है |
– Computer अपना कार्य Automation (स्वचालन) तरीके से करता है जो की प्रोग्राम के एक बार लोड हो जाने पर स्वत: करता रहता हैं |
– Computer इनपुट के अनुसार ही अपना आउटपुट देता है  जो की Accuracy (शुद्धता) / त्रुटिरहित कार्य होता  है |

– आज के समय Computer के माध्यम से Data Store करना और समय  उस  Data से हम कुछ ही सेकंड में जानकारी प्राप्त करना है |  बहुत आसन हो गया है जो की कंप्यूटर Computer  High Storage क्षमता ( Capacity )  के साथ डाटा स्टोर करता है |  data के रूप में हम कंप्यूटर में,Files, Picture, ऑडियो, विडियो , Program, software etc. रख सकते है |

Versatility (सार्वभौमिकता) के कारण उसकी कार्य क्षेत्र बढ़ता जा रहा है | आज के समय में  Computer का प्रयोग हर क्षेत्र में होने लगा है| Ex – Business, Education, Bank, Airport, Railway etc.

– Computer  से जुडी हुई संपूर्ण प्रक्रिया एक Reliability (विश्वसनीयता) से भरी होती है | जो हमारे Data को वर्षो तक सुरक्षित रखता है | जो कार्य करने में थकता भी नहीं है |

याद रखने की क्षमता (Power of Remembrance ) :-  मनुष्य अपने जीवन में बहुत कुछ पढ़ता और सिखाता है लेकिन ओ अपने जीवन के  बहुत सारी बाते भूल जाता है केवल कुछ महत्वपूर्ण बातों याद रख पता है | जब की इसके बिपरीत  Computer सभी बाते चाहे वह महत्वपूर्ण हो या ना हो सभी को Memory के अंदर Store करके रखता है तथा बाद में किसी भी सूचना की आवश्यकता पड़ने पर उपलब्ध कराता हैं|

– कंप्यूटर के Diligence (कर्मठता) और  कार्य क्षमता बढ़ता जा रहा है जब की मानव कुछ ही समय में थक जाता है | जब की कंप्यूटर इसके विपरीत निरंतर कई दिनों , महीनो तक बिना रुके कार्य कर सकता है | साथ ही सामान रूप से शुद्धता के साथ काम करता है |  Computer हर क्षेत्र से सम्बंधित कार्य को बिया किसी रुचिकर और भेदभाव के साथ करता है |

अब तो आप को पता चल ही गया होगा,

आप लोगों से अनुरोध है की इस पोस्ट को पढ़ने के बाद, नीचे कमेन्ट बॉक्स में जा कर जरूर बतायें की आप को ये पोस्ट कैसा लगा।

यदि आप के पास कोई और suggestion हो तो उसे भी कमेन्ट बॉक्स के माध्यम से बतायें।

इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें ताकि उनके भी कमेन्ट में लिए उनके राय को मै जन सकूँ |

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share via
Copy link
Powered by Social Snap