Tuesday, May 24Welcome to hindipatrika.in

मच्छरों से जुड़े कुछ रोचक तथ्य क्या है? जिसे आप जान कर हैरान हो जाएंगे | Some interesting facts related to mosquitoes in Hindi?

मच्छर एक ऐसा नाम, जिसके नाम में तो कोइ दम नहीं लेकिन इनके कारनामे से आज पूरी दुनिया परेसान और हैरान है, आज के समय में देखा जाए तो दुनिया का सबसे खतरनाख जानवर मच्छर है क्योंकि मच्छर के चलते दुनिया में सबसे अधिक मौतें होती है, एक आकडा के अनुसार हर 45 सेकंड एक बच्चे की मौत हो जाती है।

इतना कुछ हो जाने के बाद भी लोग मच्छरों को ले कर जागरूप नहीं है जिसका नतीजा हर साल लाखों लोगों को अपनी जान गवानी पड़ती है।

आज मैं आप को मच्छरों से सम्बंधित कुछ रोचक तथ्य  बताने वाला हूँ ,

आप से अनुरोध है कि इस article को आप अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें, क्योंकि काफी मेहनत के बाद मै ये सब लिख पता हूँ ताकि दुनिया के अधिक से अधिक लोगों को बता सकूँ ।

कृपया रुकें, ऐसे article  को बिना पढ़ें ना जाएं।

जी मै आप से ही बोल रहा हूँ, आप से बिनती है !

आप का शुभ नाम तो मुझे पता नहीं, लेकिन मुझे पता है कि मैंने कितना मेहनत करके ये जागरूकता अभियान के तरह लिखा है, इस article के माध्यम से आप को कुछ ना कुछ अलग बात आज जरूर पता चलेगी,

तो चलिए शुरू करते है,

आप को बता दें कि पूरी दुनिया में मच्छरों के करीब 2500 से ज्यादा प्रजाति पाई जाती है जिनमें से केवल 6% प्रजाती मादाए ही इन्सानों के खून पीती है,

आप ही बताओ खून कितना महंगा होता है? लेकिन ये फ्री में पी जाती है ओ भी जबर्जस्ती बिना पूछे, क्या जमाना या गया है।

रुकिए रुकिए ……

क्या आप ये सोंच रहें है की 6% ही केवल इन्सानों की खून पीती है तो बाकी क्या करती है ?

मुझे लग रहा है की बाकी जानवरों की खून पीती है …. कहीं आप भी तो यही बात नहीं सोचें रहें है ? यदि सोच रहें है तो बिल्कुल गलत सोंच रहें है,

यहाँ केवल आप को समझने के लिए इन्सानों लिखा गया है, सच ये है की कुछ 6% ही खून पीती है चाहें ओ इंसान हो जा जानवर सबका मिला कर 6% में आती है।

अब आप मुझसे कहेंगे की बाकी मच्छर क्या करते है? क्या इंसानों की तरह भोजन करते है? रोटी सब्जी, दाल चावल या साउथ इंडियन फूड, या चाइनीज फूड, तो मै बता दूँ की ऐसा कुछ नहीं है बाकी जीतने भी मच्छर है उनमें से ज्यादातर फुल और पेड़-पौधे के रस से ही अपना गुजरा करते है।

एक बात और बता दूँ 6% प्रजाती की मादाए जो इन्सानों का खून पीती है. इनमे से करीब 100 प्रजातीया ही एसी होती है जो वायरस फैलाती है जिनके चलते हर साल पूरे दुनिया में लाखो लोगो की जान ले लेती है।

ये तो सब मोटा – मोटी बातें हुई, अब जानते है कुछ और रोचक तथ्य जो शायद आप पहले से नहीं जानते होंगे।

मेरा मतलब है कुछ लोगों को पता होगा लेकिन सायद आप नहीं जानते होंगे, लेकिन कोई बात नहीं, मुझे भी नहीं पता था लेकिन जैसे ही पता चला मैंने बिना देर कीये आप को बताए बिना रहा नहीं गया ।

– क्या आप को पता है की मच्छर अपने वज़न से 3 गुना ज्यादा खून पी सकता है। जी ये बिल्कुल सच है।

– क्या आप को पता है की सिर्फ मादा मच्छर ही “खून चूसती” है। अब आप कहेंगे की मादा से आप इतना नफरत क्यों करते है?,  तो मै आप को बता दूँ की मै नफरत नहीं करता, मै सबसे प्यार करता हूँ लेकिन यदि मच्छरो की बात करें तो केवल मादा ही “खून” पीती है। और रही बात मच्छर से प्यार की तो दुनिया में ऐसा कोई इंसाफ नहीं होगा तो मच्छरो से नफरत ना करता हो मतलब प्यार तो दूर की बात।

– अब सवाल उठता है की आखिर मादा मच्छर ही खून क्यों पीती है ? तो आप को बता दें की मादा मच्छर जान बुझ कर खून नहीं पीती बल्कि मजबूरी में पीती है, अब आप मुझसे कहेंगे की क्या मादा मच्छर दयालु होती है, तो मै बता दूँ की ये दयालु बिल्कुल नहीं होती है बल्कि इनकी मजबूरी इस बात की होती है की ये मादा मच्छरों को अपने अंडो के लिए प्रोटीन की जरूरत होती है इस लिए ये ऐसा करती है।

– एक और मझेदार बात ये है की मादा मच्छर खून पीकर 2 दिन तक सिर्फ आराम करती है उसके बाद ही ओ खून पीती है।

– यदि मादा मच्छर के जीवन काल की बात करें तो इनकी जीवन केवल 2 सप्ताह मतलब 10 – 15 दिन की होती है जबकि नर मच्छर सिर्फ 1 सप्ताह होता है।

– मुझे पता है, आप अभी मच्छरों के दांत के बारें में सोच रहें होंगे, यदि नहीं तो कोई बात नहीं, मै आप को बात दूँ की मच्छरों के गिनती में 47 दांत होते हैं। अब आप ये मत कहिएगा की सर ये AK57 गन की तरह होते है क्या? मेरे समझ से ये AK57 की तरह होते तो नहीं है लेकिन खतरों के मामलें में AK57 के भी बाप है।

– एक बात और आप ने दांत के बारे में तो जान ही लिया, लेकिन क्या आप को पता है की मच्छरों के कितने पैर होते है ? नहीं ना ! कोई बात नहीं मै आप को बता दूँ की मच्छरों के कुल 6 पैर होते हैं।

– एक मादा मच्छर 300 -500 अंडे देती है, अब आप कहेंगे की आखिर अंडे दिखते क्यों नहीं, अब आप ही बताएं की मच्छर होते कितने बड़े है की उनके अंडे आप को देखेंगे। इसे देखने के लिए एक विशेष तरीका होता है जिसके माध्यम से आप देख सकते है।

– दुनियाँ में एक मात्र देश “आइसलैंड” जहाँ पर एक भी मच्छर मौजूद नहीं है, अब आप सोच रहें होंगे की ऐसा क्या जादू होता है? “आइसलैंड” में, तो आपके जानकारी के लिए बता दूँ की “आइसलैंड” में इतनी काफी ठंडी रहती है, जहां किसी मच्छर का जीवित रहना काफी मुस्किल है। मतलब वहाँ इंसान को ही जिंदा रहने में मुस्किल का सामना करना पड़ता है तो फिर मच्छर क्या चीज है।

– आप एक बात जानकर हैरानी हो जायेगे की मच्छरों को दिखाई नहीं देता, जी बिल्कुल सही पढ़ा, यह इंसानो – जानवरों का पता उनसे निकलने वाली कार्बन डाइऑक्साइड और हीट से लगा लेते हैं।

ये बात मुझे भी नहीं पता थी, है ना काफी रोचक बात !

– आप को ये तो पता होगा की मछर उड़ते है, लेकिन क्या आप को पता है की इनके उड़ने की स्पीड कितनी होती है? यदि नहीं तो मै बता दूँ की इनकी उड़ने की रफ़्तार 1 से 2.5 किलोमीटर प्रतिघंटा के बीच होती है।

– अब आप कहेगे की मच्छर इस दुनिया में कब से है तो मै आप को बता दूँ की ये 8 करोड़ साल पहले से इस धरती पर मौजूद हैं।

– अब आप कहेंगे की मच्छर चुप – चाप  काट कर क्यों नहीं चले जाते इतना आवाज और सोर- गुल क्यों करते है? तो मै आप को बता दूँ की ये आवाज अपने मुँह से नहीं निकलते बल्कि इनके पर (पंख) आपस में हर सेकंड 300 से 600 बार टकराते है जिसके चलते ये आवाजे आती है।

– एक बात आप खुद सोचें की यदि दुनिया के सारे मच्छर एक हो जाए और एक जहग एकट्ठा हो जाए,  तो आप सोचों की क्या होगा? मेरे समझ से ये पूरे 5 – 10 किलोमीटर तक ढेर लगा कर रास्ता जाम कर देंगे। मै असली वाले मच्छर की बात कर रहा हूँ, इंसान के रूप में रहने वाले मच्छर की नहीं ।

– आप को मैंने इतने सारे बात बताएं है  लेकिन क्या आप को पता है की मच्छर कितनी  ऊंचाई  तक उड़ते है ? एक आकडा के अनुसार मच्छर 25 फीट (7.6 मीटर) तक उड़ सकते  हैं अपने समतल से ।

– जैसे आप भोजन में अलग – अलग तरह के भोजन पसंद करते है ठीक उसी तरह मच्छर को भी एक विशेष तरह के भोजन पसंद करते है यदि साइंटिस्ट्स की माने तो ज्यादा तर मच्छर ब्लड ग्रुप O ( Bloodgroup ‘o” ) को पसंद करते है। अब आप कहेंगे की मच्छर को ये सब कैसे पता चलता है? तो मै आप को बता दूँ की ये मच्छर खून पीते समय उनको ज्यादा काटते है जिनकी Bloodgroup ‘o” है । अब पता नहीं सच कितना है, भगवान ही जाने।

– WHO की माने तो मच्छर इतने बेसरम है की इनके चलते हर साल 30 से 50 करोड़ लोग मलेरिया, डेंगू और जीका जैसे खतरनाक रोग से ग्रस्त होते जाते है।

एक आकडा के अनुसार इतिहास में जीतने मौते युद्धों से नहीं हुई है,  उससे कहीं ज्यादा मौत मच्छर के काटने से हुई है, अब आप खुद सोचें की कितना खतरनाक है।

– यदी मादा मच्छर को 1 सप्ताह तक खून ना मिले तो वो एक भी नए बच्चे को जन्म नहीं दे सकती है मतलब ये हुआ की उनको अंडे को जिंदा रहने के लिए प्रोटीन की जरूरत होती है जो खून पीने से मिलती है। मतलब साफ है की यदि लोगों ने ठान लिया जाए की हमें अपने आस – पास 1 बूंद भी खून मच्छर को नहीं पीने देंगे तो कुछ ही समय बाद अपने – आप ही मच्छरो की संख्या कम हो जाएगी।

– दुनिया में वैज्ञनिको ने एलिमिनेट डेंगू प्रोग्राम यानी की डेंगू को खत्म करने का कार्यक्रम चलाया जा रहा है यह एक ऐसी बेक्टेरिया की मदद ली जा रही है जिसके माध्यम से मच्छरों के काटने के बाद डेंगू फ़ैलाने के वायरस को ही खत्म कर देता है।

मैंने आप को ऐसे बहुत से रोचक तथ्य आज बताएं है, मुझे पता है आप को अच्छा लगा होगा, मैंने काफी मेहनत किया है इस आर्टिकल को लिखने में, आप से अनुरोध है की इस जानकारी को आप केवल अपने तक ही सीमित ना रखें, बल्कि इसे अपने परिजनों, दोस्तों और रिस्तेदारों को भी शेयर करें। साथ ही आप कमेन्ट बॉक्स में हमें जरूर बताएं की ये article कैसा लगा क्योंकि आप के विचार से ही मुझे शक्ति मिलती है आप के लिए ऐसे और रोचक बाते लिखने और शेयर करने में।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share via
Copy link
Powered by Social Snap