Saturday, June 25Welcome to hindipatrika.in

जिस खिलाड़ी को मुंबई ने नकारा, उसी ने क्वालीफायर में पछाड़ा

राइजिंग पुणे सुपरजायंट मंगलवार को मुंबई इंडियंस को मात देकर पहली बार फाइनल में पहुंचने में सफल हुई। पुणे के शानदार प्रदर्शन में 17 वर्षीय युवा गेंदबाज वाशिंगटन सुंदर की अहम भूमिका रही। वाशिंगटन सुंदर ने शानदार गेंदबाजी कर मुंबई की बल्लेबाजी की कमर तोड़ दी। सुंदर ने 16 रन देकर मुंबई के 3 बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा। सुंदर को उनकी शानदार गेंदबाजी के लिए मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया। सुंदर रोहित शर्मा, केरन पोलार्ड और अबाती रायडू जैसे दिग्गजों को अपनी फिरकी में फांसकर पवेलियन वापस भेजा और पुणे को फाइनल में पहुंचा दिया।

टीम इंडिया के दिग्गज स्पिनर आर अश्विन के चोटिल होने के बाद पुणे सुपरजायंट ने उनके विकल्प की तलाश शुरू की। अंततः टीम मैनेजमेंट की खोज तमिलनाडु में ही आकर खत्म हुई। अश्विन की जगह तमिलनाडु के 17 वर्षीय युवा ऑलराउंडर वॉशिंगटन सुंदर अश्विन की जगह टीम में शामिल किया गया। सुंदर साल 2016 में बांग्लादेश में खेले गए अंडर-19 की उपविजेता रही भारतीय टीम के सदस्य रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share via
Copy link
Powered by Social Snap