Tuesday, May 24Welcome to hindipatrika.in

Tag: 1962 में जनरल नेविन

रोहिंग्या मुसलमान: आखिर कौन है रोहिंग्या मुसलमान, क्या ये शरणार्थी है या अवैध प्रवासी ? क्या है चर्चा का बिषय?

रोहिंग्या मुसलमान: आखिर कौन है रोहिंग्या मुसलमान, क्या ये शरणार्थी है या अवैध प्रवासी ? क्या है चर्चा का बिषय?

दुनिया
रोहिंग्या मुस्लिम (Rohingya Muslim) प्रमुख रूप से बर्मा (म्यांमार) के अराकान (जिसे राखिन (Rakhine) के नाम से भी जाना जाता है) प्रांत में बसने वाले अल्पसंख्यक मुस्लिम लोग हैं ये सुन्नी इस्लाम (Sunni Islam) को मानते है, रोहिंग्या भाषा बोलते है प्रतिबन्ध होने की बजह से ये कम पढ़े लिखे है शिर्फ़ बुलियादी इस्लामी तालीम ही हाशिल कर पाते है  । जिनकी संख्या  बर्मा (म्यांमार) में 10 लाख के आश पाश है | ये म्यांमार में सदियों से रहते आये है | लेकिन इनको बर्मा के लोग और वहां की सरकार अभी भी अपनी नागरिक नहीं मानती | ये अब देश बिहीन हो गए, पहले भी इनके पाश अपना कुछ नहीं था | जिस देश को सन 1400 के आसपास ये लोग अपना मान कर बस गए थे आज वही देश इन्हें अपना मानने से इंकार कर रहा है | ये 1430 में रहाइन पर राज करने वाले बौद्ध राजा नारामीखला के दरबार में नौकर थे | राजा ने मुस्लिम सलाहकारों और दरबारियो